डॉ0 उदित राज ने पश्चिमी यमुना नहर पर पुल बनाने हेतु अपने फंड से दिए लगभग एक करोड़



रोहिणी में निर्माणाधीन फ्लाईओवर पर हुए दुर्घटना स्थल पर पहुंचकर डॉ0 उदित राज जी ने संबंधित अधिकारियों को दिए जांच के आदेश

नई दिल्ली, 12 फरवरी, 2015. डॉ0 उदित राज के संसदीय क्षेत्र उत्तर पश्चिम दिल्ली के रोहिणी सेक्टर 28 में पश्चिमी यमुना नहर पर पुराना बना हुआ पुल वर्षों पहले ढह गया था, जिससे आस-पास नरेला व रोहिणी विधान सभा के गांवों के लोगों के लोगों को आने-जाने हेतु कई किलोमीटर का चक्कर लगाना पड़ता था। इस संबंध में प्रभावित गांव वालों ने डॉ0 उदित राज, सांसद, के समक्ष अपनी समस्या रखी और आग्रह किया कि वे अपने एम.पी. लैड से उपरोक्त पुल बनवाएं। डॉ0 उदित राज ने पहले तो अपने प्रतिनिधियों को क्षेत्र का दौरा करने का निर्देश दिया और आज दोपहर 1 बजे वे स्वयं सिंचाई विभाग, हरियाणा व दिल्ली नगर निगम के उच्च अधिकारियों को मौके पर (पश्चिमी यमुना नहर, सेक्टर, 28, दिल्ली) बुलाकर एक जनसभा की और अधिकारियों को उपरोक्त पुल बनाने से संबंधित दिशानिर्देश दिए। उन्होनें अपने फंड से 80 लाख रूपये उपरोक्त पुल के निर्माण हेतु जारी किया। आवश्यक विभागीय कार्यवाही के पश्चात् शीघ्र ही पुल का कार्य प्रारंभ हो जाएगा। डॉ0 उदित राज के इस प्रयास हेतु जनसभा में उपस्थित सैकड़ों लोगों ने नारे लगाकर डॉ0 उदित राज जी का आभार व्यक्त किया।

उपरोक्त कार्यक्रम में जाने के लिए डॉ0 उदित राज जी रवाना ही हुए थे कि खबर आई कि रोहिणी में जयपुर गोल्डन हास्पिटल के पास, पी.डल्ब्यू.डी. द्वारा निर्माणाधीन फ्लाईओवर के पिलर नं. 23 के पास प्रातः 10 बजे के आस-पास दुघर्टना हो गयी है। उपरोक्त फ्लाईओवर के निर्माण के दौरान एक पिलर का टुकड़ा सड़क पर चलती हुई गाड़ी पर गिर गया, जिससे कि कुछ लोग घायल हो गए। उन्होंने तुरंत ही घटना स्थल पर संबंधित डी.सी.पी., डी.सी. (राजस्व) व पी.डल्यू.डी. के उच्चाधिकारियों को बुलाया। उन्होनंे संबंधित अधिकारियों के साथ घटना स्थल का मुआयना किया और अतिशीघ्र पी.डल्यू.डी. और ठेकेदार के खिलाफ जांच के आदेश दिए। घटना में घायल हुए लोगों के उपचार हेतु आवश्यक निर्देश दिए।

HIGHLIGHTS

Facebook

Tweets

Instagram