दनकौर के पीड़ितों को अतिशीघ्र न्याय मिले और दोषी दबंगों व पुलिस वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही: डॉ0 उदित राज



डॉ0 उदित राज, सांसद एवं राष्ट्रीय चेयरमैन, अनुसूचित जाति/जन जाति संगठनों का अखिल भारतीय परिसंघ ने ग्रेटर नोएडा के दनकौर में हुए दलित उत्पीड़न की कड़ी निंदा की है और दोषी दबंगों व पुलिस वालों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की मांग की है। उन्होंने बताया कि लूट के आरोपी की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन कर रहे परिवार को जब पुलिस ने हटाने की कोशिश की तो उन्होंने विरोध किया। पुलिस ने जोर-जबरदस्ती की तो वे विरोध करते हुए अपने कपडे़ उतारने पर मजबूर हुए। उन्होंने कहा कि दबंग लोगों ने जब घर की महिलाओं के साथ बदतमीजी की और उनके कपड़े उतार दिए तब तो दबंगों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं हुई लेकिन मजबूर होकर विरोध करते हुए जब दलितों ने कपड़े उतार दिए तो उन पर अश्लीलता का आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज कर दिया गया।

सूचना के मुताबिक जिला गौतमबुद्ध नगर के अट्टा गुजरान गांव के रहने वाले सुनील गौतम और उसके परिवार ने यह कदम दबंगों से परेशान होकर उठाया। उसका जमीन को लेकर कुछ लोगों से विवाद चल रहा है। सुनील गौतम का आरोप है कि गांव के तीन दबंग युवकों ने तमंचे के बल पर उससे नकदी, मोबाइल और थ्रीव्हीलर की चाबी छीन ली साथ ही दबंगों ने उसकी पत्नी और दो भाभियों के साथ बदसलूकी की। जबरन उनके कपड़े भी उतार दिए। सुनील गौतम ने इसी बात की शिकायत दनकौर थाने में की थी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो सुनील अपने पूरे परिवार समेत आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर 8 अक्टूबर को दनकौर में ही धरने पर बैठ गया। जब पुलिस उन्हें वहां से जबरन हटाने लगी तो सुनील और उसके परिवार वालों ने अपने सारे कपड़े उतार दिए। पुलिस ने सुनील उसकी पत्नी, दो भाभियों और उसके पिता के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

डॉ0 उदित राज ने कहा कि उ0 प्र0 में दलितों पर अत्याचार बढ़ता जा रहा है। अभी हाल ही में शाहजहांपुर में पांच दलित महिलाओं को नंगा करके सड़क पर परेड कराने का मामला सामने आया है।

डॉ0 उदित राज जी ने कहा कि अतिशीघ्र दबंगों व दोषी पुलिस वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही हो और पीड़ित परिवार को न्याय मिले।

HIGHLIGHTS

Facebook

Tweets

Instagram