महिलाओं के सम्मान से ही सामाजिक उत्थान संभव : डॉ. उदित राज



बाहरी दिल्ली, 26 फरवरी 2018: महिलाओं के प्रति लगातार बढ़ रहे अत्याचार को देखते हुए आज उत्तर-पश्चिम दिल्ली सांसद डॉ. उदित राज ने अपने नेतृत्व में बुद्धा एजुकेशन फाउंडेशन के अंतर्गत मंगोलपुरी विधानसभा में “आगाज-लिंग संवेदनशीलता” कार्यक्रम का आयोजन कराया | इस कार्यक्रम का उद्देश्य पुरुषों में महिलाओं के प्रति बढ़ रहे अत्याचार पर किस प्रकार नियंत्रण किया जाये और महिलाओं के प्रति समानता का व्यवहार कैसे हो | कार्यक्रम में बच्चों से लेकर बड़ों तक को शामिल किया गया और उन्हें नाटक के माध्यम से भी समझाया गया | कार्यक्रम का संचालन योगिता भयाना एवं अनमोल अग्रवाल ने किया एवं कार्यक्रम का पूरा खर्च ओएनजीसी द्वारा उठाया गया |

डॉ. उदित राज ने बताया कि यह कार्यक्रम पूरे विधानसभा में किया जायेगा | इस कार्यक्रम के माध्यम से लगभग 50 हजार परिवारों को जागरूक करने का लक्ष्य रखा गया है | आज से इस कार्यक्रम के माध्यम से शुरुआत हुई है यह तब तक जारी रहेगी जब तक की लक्ष्य को हासिल नहीं कर लिया जायेगा |

डॉ. उदित राज ने आगे बोलते हुए कहा कि “ मैं देखता हूँ कि आज भी लाखों ऐसे परिवार हैं जहाँ महिलाओं की भागेदारी नगण्य के समान है और उनके साथ अत्याचार भी किया जाता है | जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं होना चाहिए | आज जितने भी देश विकसित हैं उन देशों में महिला और पुरुषों दोनों का समान योगदान है | साल दर साल महिलाओं के साथ अत्याचार में लगातार बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है और इसके लिए केवल सरकार को जिम्मेदर नही ठहराया जा सकता है | जब तक पुरुषों में उनके प्रति सोंच नही बदली जाएगी तब तक यह संभव नहीं है | इस मुहीम के माध्यम से मेरा एकमात्र लक्ष्य यह है कि महिलाओं को आगे बढाया जाये और उनके साथ हो रहे अत्याचार को पूर्णतयः समाप्त किया जाये |

बुद्धा एजुकेशन फाउंडेशन के प्रोजेक्ट डायरेक्टर अनमोल अग्रवाल ने बताया कि यह कार्यक्रम हर हफ्ते अलग अलग स्थानों पर क्रियान्वित किये जायेंगे | इसमें महिलाओं, पुरुषों एवं बच्चों सभी को शामिल किया जायेगा | बुद्धा एजुकेशन फाउंडेशन इससे पहले भी महिलाओं को रोजगार देने के सम्बन्ध में कई प्रशिक्षण कार्यक्रम कर चुका है और आगे भी जारी रहेगा |

HIGHLIGHTS

Facebook

Tweets

Instagram