डॉ. उदित राज ने लोकसभा में लैंड पूलिंग पॉलिसी में संशोधन का मुद्दा उठाया



नई दिल्ली, 12 मार्च 2018, डॉ. उदित राज, सांसद उत्तर पश्चिम दिल्ली ने आज 12 मार्च 2018 को नियम 377 के अंतर्गत लोक सभा में लैंड पूलिंग पॉलिसी में हाल ही में किये गए संशोधन जो कि किसान विरोधी हैं को बदलकर मूल लैंड पूलिंग पॉलिसी का मुद्दा उठाया, डॉ. उदित राज ने कहा कि डीडीए ने लैंड पूलिंग पॉलिसी में मनमुताबिक संशोधन करते हुए प्रावधान किया है कि प्रत्येक किसान को एक्सटर्नल डेवलपमेंट चार्जेज के रूप में को प्रति एकड़ 2 करोंड रुपये देना होगा | किसानों को कम से कम 70 % जमीन स्वयं इकठ्ठा करनी होगी | ऐसा करना किसानों के लिए एक बड़ी चुनौती है और असंभव भी है | इसके अलावा इस पॉलिसी के अंतर्गत 1.10 एफ़एआर(फ्लोर एरिया रेश्यो) मिलेगा जबकि पूरी दिल्ली में सभी के लिए 2.0 एफ़एआर मिलता है | इसके अतिरिक्त इस लैंड पूलिंग पॉलिसी के अनुसार अगर डीडीए को अतिरिक्त भूमि की जरुरत होती है तो इसकी कीमत भी किसानों को ही वहन करना पड़ेगा | 5 एकड़ से कम जमीन रखने वाले किसानों को भी इस स्कीम का लाभ लेने हेतु कुछ प्रावधान होने चाहिए, उपरोक्त तथ्यों से लैंड पूलिंग पॉलिसी पूरी तरह से असफल प्रतीत होती है और किसानों के हितों के विरुद्ध है | उपरोक्त तथ्य मूल लैंड पूलिंग पॉलिसी के हिस्से नही थे और उपराज्यपाल महोदय से उपरोक्त पॉलिसी को और अधिक प्रभावी बनाने की उम्मीद थी लेकिन वैसा नही हो सका |

शहरी आवास एवं विकास मंत्री महोदय से निवेदन है कि स्वयं हस्तक्षेप करके लैंड पूलिंग पॉलिसी में किये गए उपरोक्त संशोधन हटा कर मूल लैंड पूलिंग पालिसी लागू की जाये |

HIGHLIGHTS

Facebook

Tweets

Instagram